Header Ads Widget

शरीर के रोगों को दूर करने में अदरक के जादुई लाभ

शरीर के रोगों को दूर करने में अदरक के जादुई लाभ

अदरक की चाय:

अदरक की चाय एंटीऑक्सिडेंट के स्तर को कम करके प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाती है, और चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि प्राकृतिक जड़ी-बूटियों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए असंख्य लाभ हैं।

इसलिए जैसे-जैसे उन पर शोध आगे बढ़ता है, वैसे-वैसे उनके असंख्य गुण भी सामने आते जाते हैं। इसलिए नए शोध से पता चलता है कि अदरक की चाय विटामिन सी से भरपूर होती है, जो सेहत के लिए बेहद अच्छी होती है।

शरीर के रोगों को दूर करने में अदरक के जादुई लाभ


अदरक के बारे में पोषण तथ्य।

 

विटामिन और खनिज। १०० ग्राम ताजा अदरक में:

 

  • ७९ कैलोरी 17.86 ग्राम कार्बोहाइड्रेट
  • . ग्राम आहार फाइबर
  • ग्राम चीनी
  • .५७ ग्राम प्रोटीन
  • ३३ मिलीग्राम पोटेशियम
  • .१५ ग्राम लोहा
  • १४ मिलीग्राम सोडियम
  • . मिलीग्राम विटामिन सी

 

अदरक में अन्य पोषक तत्व भी होते हैं जैसे:

 

  • - विटामिन बी6
  • - मैग्नीशियम
  • - जिंक
  • - फास्फोरस
  • - राइबोफ्लेविन
  • - नियासिन
  • - फोलेट

 

आम तौर पर पांच सदस्यों के एक छोटे परिवार में एक दिन में लगभग -१० ग्राम यदि नियमित प्रयोजनों के लिए उपयोग किया जाता है जैसे चाय का स्वाद लेना या करी बनाते समय। और समय के साथ देखा गया, अधिकांश पोषण लाभ भी संचयी होते हैं।


जी मिचलाने में उपयोगी है अदरक:

यदि किसी व्यक्ति को यात्रा के दौरान जी मिचलाने की शिकायत हो तो उसे यात्रा से पहले एक कप अदरक की चाय पी लेनी चाहिए जिससे उसे यात्रा के दौरान जी मिचलाना और उल्टी नहीं होगी और वह यात्रा का आनंद ले सकेगा।


अदरक गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल क्षमता में सुधार करत है:

अदरक की चाय पाचन तंत्र और भोजन को अवशोषित करने की क्षमता को बढ़ाती है। और खासतौर पर ज्यादा खाने के बाद अदरक की चाय पीने से पेट में गैस की वजह से होने वाली परेशानी दूर हो जाती है।


अदारक जलन को दूर करती है:

अदरक में जलन को दूर करने की क्षमता होती है, वहीं एक कप अदरक की चाय मांसपेशियों और जोड़ों के दर्द से भी राहत दिलाती है।

 

श्वसन संबंधी रोग:

अदरक की चाय सीने में जकड़न और तेज सर्दी में बहुत उपयोगी होती है, वहीं अदरक की चाय पर्यावरणीय एलर्जी के कारण होने वाली सांस की समस्याओं में भी जादू का काम करती है।


अदरक रक्त प्रवाह बढ़ाती है:

अदरक में मौजूद विटामिन, खनिज और अमीनो एसिड शरीर में रक्त परिसंचरण में सुधार करते हैं और कोरोनरी हृदय रोग के जोखिम को कम करते हैं, जबकि अदरक की चाय आंतों में वसा के गठन को रोकती है जो दिल के दौरे और स्ट्रोक को रोक सकती है।


महिलाओं के खास दिनों के लिए उपयोगी है अदरक:

अदरक की चाय महिलाओं को मासिक धर्म में ऐंठन से बचाती है।

गर्म अदरक की चाय में एक तौलिया भिगोकर पेट पर रखें, एक कप अदरक की चाय में शहद मिलाकर पीने से बेचैनी में आराम मिलता है।


इम्युनिटी बढ़ाती है अदरक :

अदरक की चाय एंटीऑक्सिडेंट के स्तर को कम करके प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाती है।


तनाव कम करने में मदद करती है:

अदरक की चाय गंभीर तनाव में भी मानव मस्तिष्क को शांत करती है। अगर अदरक की चाय का स्वाद खट्टा हो तो आप इसका स्वाद अच्छा बनाने के लिए इसमें शहद या नींबू मिला सकते हैं।


अदरक की चाय.

अदरक की चाय बनाना बहुत ही आसान है बहुत ही कम समय में अदरक की चाय बहुत स्वादिष्ट बन जाती है। अदरक की चाय हम दूध के साथ भी बना सकते हैं और बगैर दूध के भी चलिए आज हम देखते हैं अदरक की चाय स्वादिष्ट बनाने का क्या तरीका है।


दो गिलास पानी में आधा इंच अदरक थोड़ा सा कूटकर धीमे धीमे घुटना चाहिए क्योंकि ज्यादा जोर से मारेंगे तो उसका सारा रस निकल जाएगा इस तरह से धीमे धीमे मार के अदरक को कुचल लीजिए और दो गिलास पानी में दाल के थोड़ी देर पानी को बोलने दीजिए और अदरक को अच्छी तरह उबरने के बाद आपको लगे कि अदरक का सारा रस निकल चुका है तो अपने स्वाद अनुसार चाय की पत्ती मिला लीजिए और फिर इसमें शक्कर मिला लीजिए अब आप की काली चाय तैयार हो चुकी है अगर आप चाहें तो इसमें दूध मिलाकर दूध वाली चाय भी बना सकते हैं अपने स्वाद अनुसार ऑफिस में दूध मिला लीजिए तो दूध वाली अदरक की चाय बन के तैयार हो जाए गी अब आप की काली चाय तैयार हो चुकी है आप चाहे तो दूध वाली चाय भी बना सकते हैं अपने हिसाब से इस में दूध मिला दीजिए दूध की चाय भी बहुत स्वादिष्ट होती है।

 

वैसे तो अदरक की चाय बनाने के बहुत सारे तरीके हैं लेकिन यह तरीका इजी और सीधा साधा है अदरक की चाय जैसे भी बनाओ स्वादिष्ट ही बनती है और इसके और इसका असर सीधा स्वास्थ्य पर पड़ता है अदरक की चाय स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होती है। और अदरक का सेवन करने का एक आसान तरीका है।


The Magical Benefits of Ginger in Curing Diseases of the Body.